वीएनआईटी की टीम ने बनाई हार्वड ग्लोबल हैकेथॉन के टॉप तीन में जगह

नागपुर : शहर के विश्वेश्वरैया राष्ट्रीय प्रोद्योगिकी संस्थान (वीएनआईटी) के विद्यार्थियों ने हार्वड ग्लोबल हैकेथॉन प्रतियोगिता में पर्यावरण श्रेणी में टॉप तीन टीमों में अपनी जगह बनाई है। हावर्ड यूनिर्वसिटी और अली बाबा ग्रुप द्वारा आयोजित इस प्रतियोगिता के टॉप तीन में पहुंचने वाली वीनआईटी की टीम भारत की एकमात्र टीम बन गई है।

वीएनआईटी के बी.टेक केमिकल इंजीनियरिंग की टीम ने इस प्रतियोगिता में हिस्सा लिया था। अपने उत्कृष्ट प्रदर्शन के दम पर टीम ने अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में अपना दबदबा बनाया है। इस टीम में विद्यार्थी विष्णू मामिडी, उत्कर्ष गुप्ता आर सुमित साबू का समावेश है। विद्यार्थियों ने इस प्रतियोगिता में होटलों और मेस में फूड वेस्टेज रोकने के लिए एक यूनिक मॉडल प्रस्तुत किया है।

सस्टेनेबल इंजीनियरिंग की मदद से विद्यार्थियों ने इस में लोगों को यह बताने की कोशिश कि है कि हॉटल में उनके टेबल पर डिश के पहुंचने तक उसे तैयार करने में कितने लीटर पानी का उपयोग हुआ है। उदाहरण के लिए विद्यार्थियों ने बताया है कि एक प्लेट छोले भटुरे किसी ग्राहक की खाने की मेज तक पहुंचने के लिए वॉटर फूटप्रिंट के अनुसार 850 लीटर पानी का उपयोग करती है।

विद्यार्थियों ने इस वॉटर फूटप्रिंट को खाने की मेन्यू पर लिखने की पेशकश की है। ताकि ग्राहक जब भी कोई डिश ऑर्डर करें तो उन्हें उसकी तैयारी में होने वाले पानी की खपत का पता चल सके। विद्यार्थियों की इस टीम का मार्गदर्शन डॉ. सचीन मंडावगाने ने किया। संस्थान निदेशक प्रो.पी.एम.पडोले ने विद्यार्थियों का अभिनंदन किया है।

और पढिये : मुंबईने आयपीएल जिंकली, चेन्नईवर मात

Comments

comments