मोटरबाइक से 24 घंटे में कन्याकुमारी से पहुंचे नागपुर, वेरनन फ्रेंकलिन का सम्मान

नागपुर : वेरनन फ्रेंकलिन के मोटर बाइक ड्राइविंग का जुनून को इससे समझा जा सकता है कि उन्होंने कन्याकुमारी से नागपुर तक 4 हजार किमी की दूरी बुलेट से केवल 24 घंटे में पूरी कर ली। उन्होंने 5 जून 2019 को नागपुर से कन्याकुमारी की एकल यात्रा शुरू की। उन्होंने इस दौरान मध्य भारत में पड़ रही भीषण गर्मी, जब तापमान 45 डिग्री से ऊपर चल रहा था, फिर भी यात्रा जारी रखी और 9 जून को मात्र चार दिन में कन्याकुमारी पहुंच गए। वहां केवल आधे घंटे रुकने के बाद उन्होंने वापस नागपुर की यात्रा शुरू कर दी और केवल 24 घंटे में कन्याकुमारी से वापस नागपुर पहुंच गए।

सीआईवीएए ( द सेंट इंड विंटेज ऑटोमोटिव एसोसिएशन ) की ओर फ्रेंकलिन को सम्मानित किया गया। मूल रूप से नागपुर निवासी लेकिन अब ऑस्ट्रेलिया में बस चुके 68 वर्षीय फ्रेंकलिन इससे पहले नागपुर से लेह लद्दाख की भी यात्रा मोटरसाइकिल से कर चुके हैं। संस्था की ओर से उन्हें स्मृति चिन्ह और प्रशस्तीपत्र प्रदान किया गया। उन्होंने इसके पहले नागपुर से लेह लद्दाख की एकल यात्रा 19 सितंबर 2018 में शुरू और 29 सितंबर 2019 को लौटे थे। यात्रा के दौरान फ्रेंकलिन प्रतिदिन 600 किमी की दूरी तय करने के लिए रात में निरंतर ड्राइविंग करते रहे थे।

हालांकि जम्मू कश्मीर की पहाड़ी भाग में उन्हें दो बार दुर्घटना का भी शिकार होना पड़ा था। कार्यक्रम में संस्था के शाहरुख कसाद, डॉ अंजन चटर्जी, जगतार सिंह सेठी, अरविंद गोरले, डॉ रवि सावरबांधे, राम खोबरागड़े, अजय पांद्ये, आरिफ इकबाल उपस्थित थे।

और पढिये : Nagpur : Man Smashes 19-Year-Old Girlfriend’s Head Over Her “Character”