जनता का निर्णय सिर आंखों पर, चुनावी कड़वाहट भुला देश के विकास के लिए काम करने का वक्त : गडकरी

नागपुर : चुनावी नतीजों के रुझान को देख जीत के प्रति आश्वस्त नितीन गडकरी ने पत्रकार परिषद में कई विषयों पर खुल कर अपने विचार साझा किए। कहा-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा और एनडीए को मिली अभूतपूर्व सफलता को लोगों का विश्वास मान कर मैं आभार व्यक्त करता हूं। लोगों ने हमारे बीते पांच वर्षों के विकासकार्यों को देख एक और मौका दिया है। हम देश को आर्थिक ताकत बनाने और देश के किसानों और गरीबों के उत्थान के लिए कार्य करेंगे।

गडकरी ने बातों-बातों में जलसंवर्धन और जलमार्ग के क्षेत्र में काम करने की इच्छा जताई। राफेल मुद्दे पर पूछे गए प्रश्न पर गडकरी ने कहा कि चुनाव में कई प्रकार के मुद्दे आते हैं, लोकतंत्र में जनता का मत सर्वोच्च होता है। जनता जो निर्णय देती है, उसे खुले दिल से स्वीकारना ही लोकतंत्र का तकाजा है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा का जादू फीका पड़ा है या नहीं, गडकरी ने कहा- लोकतंत्र में जनता कभी किसी पार्टी को बहुमत, तो किसी को विपक्ष में बैठने का आदेश देती है।पार्टियों को अपनी अपनी भूमिका निभानी चाहिए।

चुनाव प्रचार में प्रधानमंत्री काे चोर कहा गया, यह उचित नहीं था, लेकिन अब जनता निर्णय दे चुकी है। चुनावी कड़वाहट भुला कर और साथ मिल कर देश के विकास के लिए काम करने का वक्त है। मतगणना के दौरान कांग्रेस उम्मीदवार नाना पटोले की जिलाधिकारी से हुई गहमा-गहमी पर गडकरी ने कोई भी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया।

और पढिये : गडकरी के घर के सामने दिनभर चला जल्लोष