जिला व सत्र न्यायालय की लिफ्ट में फंसी तीन अधिवक्ता , अस्पताल में भर्ती

नागपुर : मंगलवार की दोपहर को सिविल लाइंस स्थित जिला व सत्र न्यायालय में लिफ्ट अचानक बंद पड़ गई। इसमें तीन महिला अधिवक्ता काफी देर तक फंसी रही, उन्हें जब तक बाहर निकाला गया तब तक उनकी स्थिति बहुत ज्यादा बिगड़ गई। जिसके चलते डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन अध्यक्ष एड.कमल सतुजा, सचिव एंड नितीन देशमुख और अन्य वकीलों ने मिल कर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया।

दो महिला अधिवक्त सुधा सहारे और शाहिन शाह को सदर स्थित शांति भवन अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराना पड़ा, मंगलवार शाम तक उनकी सेहत में सुधार हो सकी। वहीं एक अन्य महिला अधिवक्ता आफरिन को दंदे अस्पताल में भर्ती कराया गया, उनकी हालत बाकि दो वकीलों से जरा बेहतर थी। कोर्ट की बहुमंजिला इमारत के ग्राउंड फ्लोर में दाखिल होते ही सामने दो लिफ्ट है, दूसरी ओर भी लिफ्ट हैं। जजों के लिए स्वतंत्र लिफ्ट का बंदोबस्त है। लिफ्ट का उपयोग वकील और पक्षकार करते हैं। सातवीं मंजिल तक लिफ्ट से ही आना जाना किया जाता है।

मंगलवार को भी रोज की ही तरह लिफ्ट का उपयोग हो रहा था, कि अचानक परिसर की एक लिफ्ट बंद हो गई। जिला न्यायालय के परिसर में एक भी िचकित्सक नहीं है, तो ऐसी स्थितियों में मरीजों को फर्स्ट एड भी नहीं संभव है। पिछले एक वर्ष से चिकित्सक नियुक्त की मांग की जा रही है। यहां प्रतिदिन करीब 5 हजार वकील और करीब 10 हजार पक्षकार आते हैं।

और पढिये : नागपूर : रेल्वे गाड्या सौर उर्जेवर धावणार ?

Comments

comments