रायडू ने क्रिकेट से लिया संन्यास, WC टीम में नहीं मिली थी जगह

Ambati Raidu
Ambati Raidu

नागपुर : वर्ल्ड कप-2019 में दो भारतीय खिलाड़ियों के चोटिल होने के बावजूद मौका नहीं मिलने पर अंबति रायडू ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है. रायडू को वर्ल्ड कप से पहले भारतीय क्रिकेट टीम के लिए रिजर्व खिलाड़ी के तौर पर रखा गया था. शिखर धवन के विश्व कप से बाहर होने के बाद भारतीय टीम प्रबंधन ने ऋषभ पंत को चुना.

ऑलराउंडर विजय शंकर को पैर के अंगूठे में फ्रैक्चर के कारण वर्ल्ड कप से बाहर निकालने के बाद मयंक अग्रवाल को चुना गया.

रायडू ने कहा है कि वह इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में नहीं खेलेंगे, जबकि विदेशों में अन्य टी-20 लीग खेलने के लिए तैयार हैं. 33 साल के अंबति रायडू ने भारत की ओर से 55 वनडे में 47.05 की औसत से 1694 रन बनाए हैं. जिनमें उनके 3 शतक और 10 अर्धशतक शामिल हैं. अंबति रायडू ने 6 टी-20 इंटरनेशनल में भी टीम इंडिया का प्रतिनिधित्व किया है. रायडू ने अपना वनडे डेब्यू जुलाई 2013 में किया था. विश्व कप के लिए चौथे स्थान पर अपनी दावेदारी मजबूत करने के लिए रायडू प्रथम श्रेणी क्रिकेट से पहले ही संन्यास ले चुके थे. उन्होंने अब तक कोई टेस्ट नहीं खेला है.

बता दें कि आइसलैंड क्रिकेट बोर्ड ने रायडू को अपने देश की नागरिकता ऑफर की है. उसके टि्वटर अकाउंट से नागरिकता लेने के पूरे नियम-कायदों की लिस्‍ट भी डाली गई है.हालांकि यह स्‍पष्‍ट नहीं है कि आइसलैंड बोर्ड ने कितनी गंभीरता से यह ट्वीट किया है क्‍योंकि उसकी पहचान फनी और मजेदार कमेंट करने की रही है.

आइसलैंड बोर्ड की ओर से लिखा गया है, ‘अग्रवाल के पेशेवर क्रिकेट में 72.33 की औसत से 3 ही विकेट हैं इसलिए अंबति रायडू अपने 3D ग्‍लास उतार सकते हैं. हमने उनके लिए जो दस्‍तावेज तैयार किए हैं उन्‍हें पढ़ने के लिए केवल सादा चश्‍मा ही चाहिए होगा. हमारे साथ जुड़ जाओ अंबति. हमें रायडू से जुड़ी बातें पसंद हैं.

बोर्ड के एक अधिकारी ने पीटीआई को बताया कि रायडू ने बीसीसीआई को अपने फैसले के बारे में सूचित कर दिया है. साथी क्रिकेटरों के साथ कई बार टकराव यहां तक कि घरेलू सर्किट में अधिकारियों से विवाद की वजह से भी वह कई बार सुर्खियों में रह चुके हैं.

और पढो: नागपूर – पूनम अर्बन क्रेडिट को-ऑपरेटिव्ह बँकेचा ग्राहकांना ४० लाखांनी गंडा

Comments

comments